Breaking News

सभी प्रांतिय भाषाओं की समृद्धि के लिए कार्य करो – दिगम्बराचार्य विध्यसागर जी

 

12380084

 

 

 

 

 

भोपाल : 20 अक्टूबर, समय संध्या के छ: बजे, दिगम्बराचार्य विध्यसागर जी की भक्ति पूजा संपन्न होते ही गुरुवर ने भोपाल समाज के कुछ प्रमुखों व हिंदी के प्रथम हस्ताक्षर डॉ. वेद प्रताप वैदिक के साथ मुझे कहा कि ‘हिंदी’ को राष्ट्रभाषा का सम्मान दिलाने के लिए संकल्प लो और यह कार्य जल्द से जल्द होना चाहिए | डॉ. वैदिक ने कहा कि गुरूजी अब यह कार्य हो जाएगा कारण यह है कि अब जुनूनी व्यक्तित्व के धनी पत्रकार व संपादक बिजय जी ने यह बीड़ा उठा लिया है | हिंदी भवन, भोपाल में ही भारी संख्या में उपस्थित पत्रकार, साहित्यकारों की बिजय जी ने सभा बुलाई थी और सभी ने प्रण भी लिया कि

हिंदी को मिलेगा राष्ट्रभाषा का सम्मान
और
अब ये बन जायेगा सभी भारतवासियों का अभियान
गुरुदेव विद्यासागर जी ने कहा कि आप लोगों को भारतीय संस्कृति से रमी सभी भाषाओ की समृद्धि के साथ ‘हिंदी’ के लिए कार्य करना चाहि ए, तब ही भारत को राष्ट्रभाषा के रूप में ‘हिंदी’ प्राप्त हो सकती है |
राष्ट्रभाषा हिंदी बनाने के लिए संकल्प की जरुरत है और मैंने आपके द्वारा सम्पादित ‘जिनागम’, ‘मेरा राजस्थान’ व ‘मैं भारत हूँ’ पत्रिका देखी है, बहुत ही अच्छा कार्य कर रहे है आप, मैं चाहता हूँ कि ‘हिंदी’ को राष्ट्रभाषा का दर्ज़ा मिलने के लिए आप मेहनत करें, भारत के सभी धर्मों के संतों के साथ मिलकर सभी प्रांतीय भाषाओँ की संमृद्धि के के लिए भी कार्य करें, ताकि सभी राज्यों के भाषाविद का आपको सहयोग मिल सके क्योंकि सभी प्रांतिय भाषाएँ ‘हिंदी’ की बहानें हैं | बिजय कुमार जैन ने गुरुदेव विध्यसागर जी के चरणों में बैठकर प्रतिज्ञा ली कि गुरुदेव | आपके आशीर्वाद को जाया नहीं जाने दूंगा, प्रण करता हूँ कि ‘हिंदी’ को सम्मान दिलाने के साथ सभी भाषाओँ की समृद्धता के साथ सभी को ‘हिंदी’ से जुड़ाव के बाद ही इस धरती से जाऊंगा |
भोपाल से 20 अक्टूबर, 2016 कि रात्रि को ही मुंबई पहुँच गया, 21 अक्टूबर को भोपाल में स्थित हिंदी भवन व राष्ट्रभाषा प्रचार समिति के अध्यक्ष कैलाश चन्द्र जी पंत से बात कि, पंत साहब ने कहा की सम्पूर्ण भारत के सभी भाषाओँ के विद्धानों की सूचि की उपलब्धता पर मैं भी कार्य करना शुरू कर दूंगा और आपसे निवेदन कि सम्पूर्ण राज्यों के मुख्य व प्रधान कि एक सभा संयुक्त रूप से बुलाने के लिए मैं पूरी मदद करूँगा परंतु यह सभा आप अप्रैल, 2017 को बुलाओ, क्योंकि तब तक सभी राज्यों के ‘बजट’ पेश होगे और सभी मुख्य मंत्रियों को हिंदी के विषय पर कार्य करने का मौका मिलेगा और शत-प्रतिशत उपस्थिति भी होगी
दोस्तों ! मुझे आप सबसे निवेदन है कि आप सबके पास सभी प्रांतीय भाषाओँ के विद्धानों की सूचि उपलब्ध हो तो तुरंत मेरे मेल पर भिजवायें,
Mail Id: hindiwelfaretrust@gmail.com, mailgaylordgroup@gmail.com
साथ ही मुझे मोबाइल – ९३२२३०७९०८ पर संपर्क कर मुझे जरुर बतला दे| दोस्तों ! आपका मिला थोड़ा सा सहयोग हमारे राष्ट्र भारत को पूर्ण आजादी दिलवायेगा अपनी स्वयं की भाषा ‘हिंदी’ में कार्य करना सिखलायेगा | आपके विचारों के इन्तजार में…..

 

 

About The Author

Related posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *